विजयनगर हादसा: प्रशासनिक जांच में ठेकेदार, जेई और सुपरवाइजर दोषी - PHM NEWS
Spread the love

गाजियाबाद, PHM न्यूज संवाददाता। विजयनगर के प्रताप विहार में 23 मार्च को नाले के निर्माण कार्य के दौरान हुई दुर्घटना की जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी गंभीर सिंह ने सोमवार को जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह को सौंपी है. रिपोर्ट में बताया गया है कि हादसा ठेकेदार, जेई और सुपरवाइजर की लापरवाही से हुआ है.

ठेकेदार ने नाले के निर्माण कार्य के दौरान सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम नहीं किए थे और नगर निगम के जेई सुपरवाइजर ने निर्माण कार्य का सही तरीके से निरीक्षण नहीं किया होता, यदि पर्यवेक्षण ठीक से किया जाता तो दुर्घटना से बचा जा सकता था, ऐसी कार्रवाई की जा सकती है. इन तीनों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाए। छह पेज की जांच रिपोर्ट में एक तरफ जेई, सुपरवाइजर और ठेकेदार को हादसे का दोषी करार दिया गया है तो दूसरी तरफ भविष्य में इस तरह की दुर्घटना होने का भी सुझाव दिया गया है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि भविष्य में इस तरह का काम करते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जाएं. जिसे नगर निगम की ओर से कार्य के पर्यवेक्षण की जिम्मेदारी सौंपी गई है, वह अधिकारी पर्यवेक्षण में लापरवाही न करे, उसकी भी निगरानी की जाए। बता दें कि इस हादसे में स्कूल की चारदीवारी गिरने से तीन मजदूरों की मौत हो गई, जहां मेसर्स नॉर्थ इंडिया डेवलपर्स फर्म द्वारा नाले का निर्माण कार्य किया जा रहा था.

जांच के दौरान ठेकेदार ने बयान दिया है कि निर्माण कार्य के दौरान जेसीबी मशीन चारदीवारी से टकरा गई, जिससे हादसा हुआ. इस मामले में विजयनगर थाने में प्राथमिकी भी दर्ज करायी गयी है. जिसमें ठेकेदार और नगर निगम के अधिकारियों को आरोपी बनाया गया है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.