हापुड़/सिम्भावली - प्रधान और सचिव की शिकायत करना गौ रक्षा समिति के कार्यकर्ताओं को पड़ा भारी
Spread the love

सिम्भावली के गांव हरोडा में गोरक्षा समिति को गो सेवा करने पर ग्राम प्रधान दानिस ने झूठे अरोप में फसने की की कोशिश इस संबंध में दी गोरक्षा समिति ने थाने में तहरीर


गोरक्षा समिति ने 23/2/2022 को ग्रामीणों की मदद से कुछ गोवंस पकड़े जिसकी सूचना ग्राम प्रधान, ग्राम सचिव,ADO, BDO को दी जिसमे प्रधान द्वारा फर्जी लेटर देकर कहा गया कि गांव में गोवंश नही है जिसकी सूचना पाकर मौके पर गोवंश होने का वीडियो खण्ड विकास अधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी को दिया गया खण्ड विकास अधिकारी ने मौके पर पहुंच देखा गोवंश गांव में आवारा घूम रहे है जिसमे उन्होंने तत्काल पकड़कर गोशाला भिजवाने की बात कही जिससे नाराज ग्राम प्रधान ने गोरक्षा समिति के पदाधिकारियों पर झूठा आरोप लगाया। और गौ रक्षा समिति के कार्यकर्ताओं पर झूठा मुकदमा लिखवाने के लिए थाने में तहरीर दे दी। और आरोप लगाया कि गौ रक्षा समिति के लोगों से मुझे जान का खतरा है। गौ रक्षा समिति के कार्यकर्ताओं ने थाने में तहरीर दी है कि थानाध्यक्ष सिंभावली  मामले की जांच कर उचित कार्यवाही करें।

ग्राम प्रधान व ग्राम सचिव हरोडा ने एक एक पत्र खंड विकास अधिकारी को दिया था जिसमें बताया गया कि गोवंश गांव में नही है। खण्ड विकास अधिकारी ने 24 फरवरी को बताया था कि प्रधान व सचिव को गोवंश को बंद कर गोशाला ले जाने के आदेश दिया जा चुका है।

देखने वाली बात ये है कि वही प्रधान व सचिव लिखित में दे रहे है कि गोवंश गांव में नही है गोरक्षा समिति के पदाधिकारियों द्वारा मोके पर गोवंश मोजूद होने के फ़ोटो भेजने पर ग्राम प्रधान और ग्राम सचिव के झूठ की पोल खुल गई। खंड विकास अधिकारी ने पुनः गोवंशो को पकड़कर गौशाला भेजने के आदेश दिए हैं।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.