सोशल मीडिया पर पुलिस की नजर : भ्रामक वीडियो शेयर करने पर एडमिन दोषी होगा
hapur police
Spread the love

हापुड़ में लोकसभा चुनाव में खलल डालने और सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट करने वालों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करेगी। इसको लेकर हापुड़ पुलिस ने कमर कस ली है। पुलिस की ओर से एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है. जिस पर चुनाव से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत की जा सकती है।

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर एसपी के निर्देश पर पुलिस विभाग ने जनपद हापुड में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव कराने के लिए हेल्प लाइन नंबर मोबाइल नंबर 7839869724 जारी किया है। जिस पर जनता चुनाव संबंधी अनियमितताओं से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी या शिकायत व्हाट्सएप या ईमेल- [email protected] पर फोन या व्हाट्सएप के माध्यम से सीधे पुलिस को भेज सकती है। हेल्पलाइन नंबर पर पुलिस को सूचना देने वाले व्यक्ति की पहचान गुप्त रखी जाएगी.

सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखी जा रही है

पुलिस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी कड़ी निगरानी रख रही है. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर चुनाव से संबंधित कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आपत्तिजनक मैसेज पोस्ट करने के साथ-साथ उसे लाइक, कमेंट और शेयर करने वालों पर भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

गलत सूचना के प्रसार को रोकने में मदद करें

एसपी ने कहा कि व्हाट्सएप पर भ्रामक वीडियो, चित्र, झूठी खबर या किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक व गुमराह करने वाली सामग्री शेयर करने वाले के साथ-साथ ग्रुप एडमिन को भी दोषी माना जाएगा। हापुड पुलिस ने जिले के लोगों से अपील की है कि वे किसी भी प्रकार की भ्रामक और आपत्तिजनक सूचना को फैलने से रोकने में पुलिस की मदद करें. मामले की जानकारी तुरंत पुलिस को हेल्पलाइन नंबर पर दें।


Spread the love