• Tue. Dec 6th, 2022

पिता के गुनाहों पर अतीक अहमद के बेटे का जूता, फरार अली के सिर पर 25000 का इनाम

Byadmin

Feb 23, 2022
ताजा क्राइम न्यूज: अतीक अहमद का उत्तर प्रदेश में गुंडों के गिरोह में काफी सम्मान हुआ करता था। इसलिए उनकी तारीफ करने के लिए सिर्फ नाम ही काफी था। लेकिन लंबे समय से अतीक अहमद की मूंछें 'नीचे' हैं और तनाव कम हो गया है. दरअसल, कानून की पकड़ उन्हें हर दिन एक नई धारा में बुरी तरह से जकड़ लेती है. एक बार फिर बाहुबली कहे जाने वाले अतीक अहमद की परेशानियों ने उन्हें बुरी तरह झकझोर कर रख दिया है, क्योंकि अतीक अहमद के बेटे ने अब अपने पिता के बताए रास्ते पर चलकर अपना नाम यूपी पुलिस की वांछित सूची में दर्ज करा लिया है. अतीक के बेटे अली पर 25 हजार का इनाम दरअसल, उत्तर प्रदेश पुलिस फिलहाल अतीक अहमद के बेटे अली की तलाश कर रही है और इसी तलाश के लिए पुलिस ने उसके सिर पर 25 हजार का इनाम रखा है. पुलिस ने अली के अलावा सात और लोगों के खिलाफ 25-25 हजार रुपये के इनाम की भी घोषणा की है। और सबके खिलाफ मुकदमों की धारा भी है। हवा अतीक की हवा बन गई है UP CRIME NEWS: अतीक अहमद के बहुत बुरे दिन चल रहे हैं. पहले स्थिति यह थी कि अतीक अहमद का नाम लेते ही पुलिसकर्मी रुकना भूल गए और सम्मान के साथ व्यवहार करने लगे, लेकिन अब गलती से भी मुंह से नाम नहीं निकलता, यहां तक ​​​​कि एक नाबालिग पुलिस कांस्टेबल भी घूरता रहता नीचे से ऊपर। जाहिर है इस नाम का अब सम्मान नहीं रहा। जो हवा बाहुबली अतीक अहमद की हुआ करती थी वह सब कुछ वैसा ही हो गया है। अतीक अहमद इस समय गुजरात की साबरमती जेल में बंद है। इसलिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने अब अतीक अहमद के नाम की फाइल कोने में रख दी है और नई फाइल खोली है जिस पर अतीक अहमद के छोटे बेटे अली का नाम लिखा है. अली ने मांगे थे पांच करोड़ रंगदारी खबर है कि अतीक अहमद के बेटे अली पर हत्या के प्रयास और रंगदारी मांगने जैसे कई गंभीर आरोप हैं. अली का नाम तब सुर्खियों में आया था जब अली ने एक बिजनेसमैन से पांच करोड़ की रंगदारी मांग कर सुर्खियों में जगह बना ली थी। मामला पिछले दिसंबर का है। बताया जा रहा है कि 21 दिसंबर 2021 को प्रयागराज के करेली थाने में अली के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था और तब से पुलिस अली की तलाश कर रही है लेकिन वह फरार है. अतीक का परिवार पहली बार चुनाव से दूर UP CRIME NEWS IN HINDI: एक समय था जब इस प्रयागराज में अतीक अहमद का नाम आता था। इस इलाके में किसी ने भी चुनाव लड़ा, लेकिन अतीक अहमद का नाम लेकर चुनाव जीतना तय था. लेकिन इस बार का चुनाव इस लिहाज से बिल्कुल अलग है. पिछले तीन दशकों में शायद यह पहला मौका है जब अतीक अहमद और उनके परिवार का कोई सदस्य चुनावी मैदान से दूर रहा है। हालांकि एक बार फिर अतीक अहमद के घर से कोशिश की गई। और अतीक की पत्नी शाइस्ता का इरादा एआईएमआईएम यानी असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी में शामिल होकर चुनावी मैदान में उतरने का था, लेकिन मंगलवार को जब फॉर्म भरने का समय आया तो उन्होंने भी शाइस्ता का टिकट पक्का कर दिया था. उनके आने पर शाइस्ता ने चुनावी मैदान में उतरने की हिम्मत तक नहीं की. इसकी एक सबसे बड़ी वजह यह भी है कि अब वह अतीक अहमद का इकबाल नहीं है। अतीक खुद गुजरात की साबरमती जेल में दिन गिन रहे हैं जबकि उनके दो बेटे इधर-उधर घूम रहे हैं और फरारी की तरह अपना दिन बिता रहे हैं. और इन सब कारणों से क्षेत्र में जो थोड़ा सम्मान था, वह भी नहीं था। इसलिए पूरे परिवार को चुनाव से दूर कर दिया गया है। अब स्थिति यह है कि कानून के चंगुल से बचने के लिए अतीक अहमद के परिवार को दिन रात कुछ न कुछ नए प्रयास करने पड़ रहे हैं. फिलहाल पूरा परिवार अली को बचाने की कोशिश कर रहा है।

ताजा क्राइम न्यूज: अतीक अहमद का उत्तर प्रदेश में गुंडों के गिरोह में काफी सम्मान हुआ करता था। इसलिए उनकी तारीफ करने के लिए सिर्फ नाम ही काफी था। लेकिन लंबे समय से अतीक अहमद की मूंछें ‘नीचे’ हैं और तनाव कम हो गया है.

दरअसल, कानून की पकड़ उन्हें हर दिन एक नई धारा में बुरी तरह से जकड़ लेती है. एक बार फिर बाहुबली कहे जाने वाले अतीक अहमद की परेशानियों ने उन्हें बुरी तरह झकझोर कर रख दिया है, क्योंकि अतीक अहमद के बेटे ने अब अपने पिता के बताए रास्ते पर चलकर अपना नाम यूपी पुलिस की वांछित सूची में दर्ज करा लिया है.

अतीक के बेटे अली पर 25 हजार का इनाम

दरअसल, उत्तर प्रदेश पुलिस फिलहाल अतीक अहमद के बेटे अली की तलाश कर रही है और इसी तलाश के लिए पुलिस ने उसके सिर पर 25 हजार का इनाम रखा है. पुलिस ने अली के अलावा सात और लोगों के खिलाफ 25-25 हजार रुपये के इनाम की भी घोषणा की है। और सबके खिलाफ मुकदमों की धारा भी है।

हवा अतीक की हवा बन गई है

UP CRIME NEWS: अतीक अहमद के बहुत बुरे दिन चल रहे हैं. पहले स्थिति यह थी कि अतीक अहमद का नाम लेते ही पुलिसकर्मी रुकना भूल गए और सम्मान के साथ व्यवहार करने लगे, लेकिन अब गलती से भी मुंह से नाम नहीं निकलता, यहां तक ​​​​कि एक नाबालिग पुलिस कांस्टेबल भी घूरता रहता नीचे से ऊपर। जाहिर है इस नाम का अब सम्मान नहीं रहा।

जो हवा बाहुबली अतीक अहमद की हुआ करती थी वह सब कुछ वैसा ही हो गया है। अतीक अहमद इस समय गुजरात की साबरमती जेल में बंद है। इसलिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने अब अतीक अहमद के नाम की फाइल कोने में रख दी है और नई फाइल खोली है जिस पर अतीक अहमद के छोटे बेटे अली का नाम लिखा है.

अली ने मांगे थे पांच करोड़ रंगदारी

खबर है कि अतीक अहमद के बेटे अली पर हत्या के प्रयास और रंगदारी मांगने जैसे कई गंभीर आरोप हैं. अली का नाम तब सुर्खियों में आया था जब अली ने एक बिजनेसमैन से पांच करोड़ की रंगदारी मांग कर सुर्खियों में जगह बना ली थी। मामला पिछले दिसंबर का है।

बताया जा रहा है कि 21 दिसंबर 2021 को प्रयागराज के करेली थाने में अली के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था और तब से पुलिस अली की तलाश कर रही है लेकिन वह फरार है.

अतीक का परिवार पहली बार चुनाव से दूर

UP CRIME NEWS IN HINDI: एक समय था जब इस प्रयागराज में अतीक अहमद का नाम आता था। इस इलाके में किसी ने भी चुनाव लड़ा, लेकिन अतीक अहमद का नाम लेकर चुनाव जीतना तय था. लेकिन इस बार का चुनाव इस लिहाज से बिल्कुल अलग है. पिछले तीन दशकों में शायद यह पहला मौका है जब अतीक अहमद और उनके परिवार का कोई सदस्य चुनावी मैदान से दूर रहा है।

हालांकि एक बार फिर अतीक अहमद के घर से कोशिश की गई। और अतीक की पत्नी शाइस्ता का इरादा एआईएमआईएम यानी असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी में शामिल होकर चुनावी मैदान में उतरने का था, लेकिन मंगलवार को जब फॉर्म भरने का समय आया तो उन्होंने भी शाइस्ता का टिकट पक्का कर दिया था. उनके आने पर शाइस्ता ने चुनावी मैदान में उतरने की हिम्मत तक नहीं की.

इसकी एक सबसे बड़ी वजह यह भी है कि अब वह अतीक अहमद का इकबाल नहीं है। अतीक खुद गुजरात की साबरमती जेल में दिन गिन रहे हैं जबकि उनके दो बेटे इधर-उधर घूम रहे हैं और फरारी की तरह अपना दिन बिता रहे हैं. और इन सब कारणों से क्षेत्र में जो थोड़ा सम्मान था, वह भी नहीं था।

इसलिए पूरे परिवार को चुनाव से दूर कर दिया गया है। अब स्थिति यह है कि कानून के चंगुल से बचने के लिए अतीक अहमद के परिवार को दिन रात कुछ न कुछ नए प्रयास करने पड़ रहे हैं. फिलहाल पूरा परिवार अली को बचाने की कोशिश कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *